Breaking News
recent

कैसे काम करती है इन्‍टरनेट कुकी..?

वैसे तो Google के सभी Android ऑपरेटिंग सिस्‍टम के नाम खाने वाली वस्‍तुओं से शुरू होते हैं, लेकिन Internet की दुनिया से जुडा एक और नाम महत्‍वपूर्ण नाम है जो खाने की चीज से जुडा है और वह है कुकी (cookies), कुकी (cookies) बहुत ही सूक्ष्‍म लेकिन बडी की काम की चीज होती है। तो आईये जानते हैं क्‍या होती है यह कुकी (cookies)।
क्‍या होती है यह कुकी (cookies)
आपके द्वारा किसी भी Browser जैसे - Google Chrome, Mozilla Firefox या  Internet Explorer पर सर्फिग की जाती है, सीधे शब्‍दों में इन्‍टरनेट प्रयोग किया जाता है तो आपके Browser द्वारा चुपके से आपके द्वारा की गयी Surfing की जानकारी को Store कर लिया जाता है। जैसे आपके कौन सा की-वर्ड प्रयोग किया, या आप किस Site में Interest रखते हैं। यह सभी सूचनायें आपके Browser द्वारा छोटी-छोटी Text फाइलों के रूप में सेव कर ली जाती हैं। इन्‍हीं Text फाइलों को कुकी कहते है।


कैसे काम करती है कुकी 
जैसा कि हमने आपको बताया कि आपका Browser कुकी को छोटी-छोटी Text फाइलों के रूप में सेव कर लेता है, यह Text फाइल सदेंश के रूप में हर बार आपके वेव सर्वर को भेजा जाता है, जब आप इन्‍टरनेट पर कोई साइट खोलते हैं या सीधे शब्‍दों पेज रिक्‍वेस्‍ट करते है। कुकी का प्रयोग वेब सर्वर्स द्वारा डाटा की पहचान करने में किया जाता है।

गूगल (Google) भी आप तक पहुॅचने में कुकी का प्रयोग करता है, गूगल एडसेंस (Google AdSense) पर आप जो एड देखते हैं वह आपकी जानकारी और पंसद के हिसाब से ही दिखाये जाते हैं। गूगल एडसेंस (Google AdSense) आपकी कुकी द्वारा इकठ़ठी की गयी जानकारी के आधार पर ही आपको एड दिखाता है।

No comments:

@problemhunt.com. Powered by Blogger.