Breaking News
recent

फोकट के एन्टीवॉयरस सॉफ़्टवेयर और उनका दमखम !!!!!..?

कंप्यूटर वॉयरस एक ऐसा शब्द है जो हर उस इन्सान के दिमाग को हिला देता है जो कंप्यूटर इस्तेमाल करता है और इसका डर इतना है की इससे बचने के लिए लोग हजारों रुपया खर्च कर देते हैं लेकिन हम में से ज्यादा तर लोग फ्री में एन्टीवॉयरस जुगाड़ते रहते हैं कोई कहता है अवास्ट अच्छा है कोई कहता है अविरा अच्छा है!
मै पिछले ३ साल से अवास्ट इस्तेमाल करता हूँ ठीक-ठाक काम करता है !





लेकिन इसके आलावा और भी फ्री एन्टीवॉयरस हैं जो अच्छा काम करते हैं !आज मै ने एक ब्लॉग देखा "दुनिया मेरी नज़र से"
भी हाल ही में चिट्ठाकार गूगल समूह में एन्टीवॉयरस पर चर्चा का गर्म दौर रहा जिस दौरान फोकट के एन्टीवॉयरस जुगाड़ों के बारे में भी बात हुई और कौन सा अच्छा है कौन सा बेकार इस पर भी चर्चा हुई। लगभग ढ़ाई वर्ष पहले मैंने डिजिट ब्लॉग पर इंटरनेट पर सुरक्षित विचरण के लिए सरवाइविंग ऑनलाईन (surviving online) नाम से तीन भाग की एक शृंखला लिखी थी जिसमें स्पैम (spam), फिशिंग (phishing), वॉयरस (virus) आदि पर और उनसे बचने के जुगाड़ों के विषय में लिखा था; इसके तीनों भाग आप यहाँ पढ़ सकते हैं – भाग 1, भाग 2 और भाग 3 (तीनों अंग्रेज़ी में हैं)। वह शृंखला ज्ञानवर्धन के उद्देश्य से लिखी गई थी इसलिए उसमें मुख्यतः वैसी ही जानकारी है, फोकट के जुगाड़ों का भी उल्लेख है लेकिन मुख्य फोकस वे नहीं थे।
तो चिट्ठाकार समूह में हुई हाल ही की चर्चा से मन में आया कि बिल्लू दी खिड़की यानी माइक्रोसॉफ़्ट विन्डोज़ (Microsoft Windows) के लिए फोकट के एन्टीवॉयरस जुगाड़ों पर एक पोस्ट ठेल दी जाए ताकि लोग बाग़ वॉयरस नाम की टेन्शन से दूर रहें। ;) वैसे तो फोकट के छोटे-बड़े नए-पुराने एन्टीवॉयरस सॉफ़्टवेयर कई हैं लेकिन यहाँ मैं मुख्यतः सिर्फ़ 6 एन्टीवॉयरस सॉफ़्टवेयरों को सूचिबद्ध कर रहा हूँ। तो देखते हैं कौन-२ से योद्धा मैदान में हैं (किसी खास क्रम में नहीं):
  • अवास्ट होम एडिशन (avast! 4 Home Edition): यह गैर व्यापारिक और निजी प्रयोग (non-commercial & personal use) के लिए मुफ़्त है, इसको प्रयोग करने की ये दोनों शर्ते माननी आवश्यक हैं। इस मुफ़्त वर्ज़न का 60 दिन का ट्रायल मिलता है, इसके लिए फोकट में लाइसेन्स इसकी वेबसाइट पर रजिस्टर करने से मिल जाता है जो कि एक वर्ष के लिए होता है, एक वर्ष की अवधि के बाद आप पुनः फोकट में लाइसेन्स प्राप्त कर सकते हैं। यह आपको रियल-टाइम (real-time) सुरक्षा देता है, यानि कि यदि कोई वॉयरस संक्रमित फाइल जैसे ही आपकी हार्ड-डिस्क पर आएगी यह तुरंत ही उसको पकड़ लेगा। यह पॉप3/आईमैप (POP3/IMAP) ईमेल और चैट सॉफ़्टवेयरों से आने वाले वॉयरसों से भी सुरक्षा देता है। कंप्यूटर के रिसोर्स अधिक नहीं खाता। सुन्दर दिखने के लिए इसके पास थीम का जुगाड़ है और इसकी वेबसाइट से आप कई सारी थीम फोकट में डाउनलोड कर सकते हैं।
  • एवीजी एन्टीवॉयरस फ्री एडिशन (AVG Anti-Virus Free Edition): यह एक हल्का और कम रिसोर्स खाने वाला फोकट एन्टीवॉयरस सॉफ़्टवेयर है। यह भी आपको रियल-टाइम (real-time) सुरक्षा और ऑटोमैटिक अपडेट की सुविधा देता है। एक अच्छा जुगाड़ लेकिन ज़ाती तौर पर मुझे खास पसंद नहीं।
  • अवीरा एन्टीवीर पर्सनल (Avira AntiVir Personal – Free Antivirus): यह फोकटी एन्टी-वॉयरस आपको वॉयरसों, वॉर्म्स (worms) और ट्रोजन्स (trojans) से तो सुरक्षा प्रदान करता ही है, साथ ही यह फिशिंग (phishing) और रुटकिट्स (rootkits) से भी सुरक्षा प्रदान करता है। कंप्यूटर रिसोर्स थोड़े अधिक खाता है और पॉप3/आईमैप (POP3/IMAP) ईमेल तथा चैट सॉफ़्टवेयरों से आने वाले वॉयरसों से सुरक्षा नहीं प्रदान करता।
  • क्लैमविन (ClamWin): यूनिक्स/लिनक्स (Unix/Linux) के लिए क्लैमएवी (ClamAV) नाम के फोकटी एन्टीवॉयरस सॉफ़्टवेयर का यह वर्ज़न बिल्लू दी खिड़की यानि कि माइक्रोसॉफ़्ट विन्डोज़ (Microsoft Windows) के लिए है। यह फोकटी एन्टीवॉयरस सॉफ़्टवेयर पूरी तरह फोकटी है और आप इसको जिस मर्ज़ी जगह प्रयोग कर सकते हैं, अपने निजि उपयोग के लिए और व्यवसायी उपयोग के लिए भी। यह मेरे ख्याल से अकेला मुक्त स्रोत (open source) एन्टीवॉयरस सॉफ़्टवेयर। जीएनयू जीपीएल (GNU GPL) के अंतर्गत लाइसेन्सड यह सॉफ़्टवेयर बाकी खिलाड़ियों जितना शक्तिशाली तो नहीं है लेकिन एक अच्छा विकल्प है। इस पर काफ़ी समय से मेरी नज़र है और समय के साथ इसमें कई सुविधाएँ जुड़ी हैं। यह बिलकुल हल्का सॉफ़्टबेयर है और रिसोर्स अधिक नहीं चूसता।
  • कोमोडो एन्टीवॉयरस (Comodo AntiVirus): यह एक अच्छा फोकटी एन्टीवॉयरस है जिसमें सुविधाओं की कमी नहीं है। ऑटोमैटिक अपडेट से लेकर रियल टाइम सुरक्षा आदि सभी यह प्रदान करता है, वॉर्म्स आदि से भी सुरक्षा प्रदान करत है और आपको स्कैन स्केड्यूल (scan schedule) भी करने देता है जिससे आप एक निश्चित तिथि और समय सैट कर सकते हैं जब यह अपने आप आपके कंप्यूटर को स्कैन करेगा। ईमेल स्कैन करने की सुविधा भी इसमें है, चैट स्कैन करने की भी होती तो और बेहतर होता, कंप्यूटर रिसोर्स पर भी यह भारी नहीं है।
  • थ्रेटफॉयर (ThreatFire): भूतकाल में साइबरहॉक (CyberHawk) के नाम से प्रचलित यह एक अन्य फोकटी एन्टीवॉयरस सॉफ़्टवेयर है जो ज़रा हट के है। क्या हट के है? अन्य एन्टीवॉयरस सॉफ़्टवेयरों की तरह यह पूर्व-ज्ञात वॉयरस सिग्नेचर/डेफिनिशन फाईलों पर ही नहीं टिका रहता बल्कि निरंतर कंप्यूटर पर नज़र रखता है कि कहीं कोई संदेहास्पद गतिविधि तो नहीं हो रही। इसकी इसी खूबी के कारण यह ज़ीरो-डे (Zero Day) सुरक्षा भी देता है, यानि कि उन वॉयरस और मालवेयर (malware) से सुरक्षा जो एकदम नए-ताज़े मैदान में आते हैं और जिनका तुरंत कोई उपाय उपलब्ध नहीं होता। कंप्यूटर रिसोर्स पर भी यह काफ़ी हल्का है, ज्ञात और अज्ञात दोनों ही खतरों और रुटकिट्स (rootkits) से सुरक्षा प्रदान करता है तथा यह दूसरे एन्टीवॉयरस सॉफ़्टवेयरों के साथ भी काम करता है यानि कि यदि आप पहले से कोई एन्टीवॉयरस सॉफ़्टवेयर प्रयोग कर रहे हैं तो उसको हटाने की आवश्यकता नहीं है। यह घुटे हुए तकनीकी प्रयोक्ताओं के लिए एडवांस्ड कॉन्फिगुरेशन (configuration) और कस्टम रूल सैटिंग (custom rule setting) की भी सुविधा देता है। इसको बनाने वाली कंपनी फोकट में ईमेल और वेब हैल्प डेस्क (help desk) द्वारा सपोर्ट भी देती है।
इन 6 फोकट एन्टीवॉयरस सॉफ़्टवेयरों की कुछ सुविधाओं की तुलना निम्न है:
इनके अतिरिक्त भी निम्न फोकटी एन्टीवॉयरस सॉफ़्टवेयर हैं जिनको आप विकल्प के तौर पर देख सकते हैं:
  • पीसी टूल्स एन्टीवॉयरस फ्री एडिशन (PC Tools AntiVirus Free Edition): यह भी एक फोकटी एन्टीवॉयरस सॉफ़्टवेयर है जो कि आपको कई सुविधाएँ प्रदान करता है जिनमें ऑटोमैटिक अपडेट और रियल टाइम सुरक्षा शामिल हैं।
  • बिटडिफेन्डर फ्री एडिशन (BitDefender Free Edition): यह भी एक कमर्शियल सॉफ़्टवेयर का फोकटी वर्ज़न है। साज-सज्जा आदि से प्रोफेशनल सॉफ़्टवेयर की झलक मिलती है लेकिन सुविधाओं के मामले में यह फोकटी वर्ज़न कुछ खास नहीं है।
आशा है कि बिल्लू दी खिड़की यानि कि माइक्रोसॉफ़्ट विन्डोज़ (Microsoft Windows) प्रयोग करने वाले लोगों के लिए यह सूचि लाभकारी रहेगी। यदि आपने इनमें से किसी एन्टीवॉयरस सॉफ़्टवेयर या किसी अन्य फोकटी एन्टीवॉयरस सॉफ़्टवेयर को प्रयोग किया है तो अपने अनुभव यहाँ अवश्य बाँटें। :)

No comments:

@problemhunt.com. Powered by Blogger.