Breaking News
recent

क्लाउड की मौलिक अवधारणाएं..?

इस्तेमालकर्ता तक क्लाउड कंप्यूटिंग को आसानी से पहुंचने योग्य बनाने के लिए इस तकनीक के पीछे कुछ खास मॉडल्स काम करते हैं, जिन्हें डेप्लॉयमेंट मॉडल्स के नाम से जाना जाता है. क्लाउड के चार प्रमुख प्रकार होते हैं : पब्लिक, प्राइवेट, कम्यूनिटी और हाइब्रिड.
पब्लिक क्लाउड : पब्लिक क्लाउड सामान्य लोगों को सिस्टम्स और सेवाओं तक आसानी से पहुंचने की अनुमति देता है. यह ज्यादा पारदरशी होता है यानी इसमें बहुत सी चीजें खुले रूप में होती है, इसलिए पब्लिक क्लाउड थोड़ा कम सुरक्षित माना जाता है, जैसे- इमेल आदि.
प्राइवेट क्लाउड : प्राइवेट क्लाउड लोगों को एक संगठन के दायरे के भीतर सिस्टम्स और सेवाओं तक पहुंच मुहैया कराता है. चूंकि इसकी प्रकृति निजी किस्म की होती है, इसलिए यह कुछ हद तक ज्यादा सुरक्षित माना जाता है.
कम्यूनिटी क्लाउड : यह अपने इस्तेमालकर्ताओं को संगठनों के समूह के दायरे में सेवाएं मुहैया कराता है.
हाइब्रिड क्लाउड : हाइब्रिड क्लाउड निजी और सार्वजनिक क्लाउड का मिश्रण है. हालांकि, इसमें ज्यादा गंभीर किस्म की गतिविधियों को प्राइवेट क्लाउड के माध्यम से जबकि सामान्य किस्म की गतिविधियों को सार्वजनिक क्लाउड के माध्यम से अंजाम दिया जाता है.

No comments:

@problemhunt.com. Powered by Blogger.